Please select your choice  

Arrow

एलएनआईपीई ने ग्रीन इंडिया इनिसिएटिव के तहत बाईसीशेयर टेक्नोलॉजी से किया एमओयू
 

 

Arrow

Republic Day of India – 26 January 2018 in LNIPE Gwalior
 

 

लक्ष्मीबाई राष्ट्रीय शारीरिक शिक्षा संस्थान में आज 69वां गणतंत्र दिवस हर्षोल्लास से मनाया गया। प्रातः 8.00 बजे प्रो. दिलीप कूमार डुरेहा (कुलपति, एलएनआईपीई) ने शहीद वीरांगना रानी लक्ष्मीबाई की प्रतिमा पर माल्यार्पण करने के उपरांत ध्वजारोहण किया। ध्वजारोहण व राष्ट्रगान के उपरांत कुलपति प्रो. डुरेहा का संबोधन हुआ। अपने संबोधन में कुलपति प्रो. डुरेहा ने सभी आचार्यों, प्रशासनिक अधिकारीयों, छात्र-छात्रओं, कर्मचारियों व केेवीएस कार्यशाला में आए शिक्षक समुह को गणतंत्र दिवस की हार्दिक बधाई दी। हमारे माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी की दूरदर्शिता व मजबूत फैसलों के कारण आज हमारा देश आर्थिक व खेल में महत्वपूर्ण देशों के क्रम अपनी उपस्थिति दर्ज कराने में सफल रहा हैं। हमें युवा कार्यक्रम और खेल मंत्रालय, भारत सरकार ने 4 महत्वपूर्ण दायित्व दिया हैं जिसमे एन.पी.एफ.पी, नेशनल करिकलम फॅार फिजिकल एजूकेशन एंड स्पोटर्स, ड्राफ्ंिटग एंड राइटिंग फाॅर स्पोटर्स और चैथा व अंतिम दायित्व यहां स्पोटर्स साइंस फेकल्टी की स्थापना व निर्माण कराना। इस फेकल्टी के लिए मंत्रालय ने हमें 3 प्रोफेसरो, 3 एसोसिएट प्रोफेसरों व 6 सहायक प्रोफेसरों के नियुक्ति का भी दायित्व दिया हैं। हमें साथ मिलकर इन सभी दायित्वों को सफलतापूर्वक पूर्ण करना हैं। हम अपने कर्मचारियों को यह बताना चाहेंगे कि हम आपके कार्यकाल आयु को 62 से 65 कराने का प्रयास कर रहें हैं। आपके 7वां वेतनमान की प्रक्रिया लगभग पूर्ण हो चूकी हैं और आप सभी को अगले माह से 7वें वेतनमान के हिसाब से वेतन मिलेगा इसके साथ ही इस वेतनमान से जुड़ा आप सभी का एरियर भी आप सभी को जल्द से जल्द मिलेगा। आपके और आप सभी के परिवारों के लिए हम कई तरह के निःशुल्क मेडिकल कैंप लगवाते रहे हैं आने वाले समय में भी यह जारी रहेगा। आप सभी के लिए हम कम्पनसेटिव लीव को ला रहे हैं जिससे कि आपमें से जो व्यक्ति अवकाश में कार्य करें व इसका लाभ ले सकें। हमने बीते दिनों आपके यहां प्राध्यापकों की नियुक्ति व करियर एडवांसमेंट स्कीम का कार्य लगभग पूर्ण कर लिया हैं और शीघ्र ही इनके परिणाम आपके सामने होंगे। अपने छात्रों से में यह कहना चाहुंगा कि काफी समय बाद ऐसा हुआ हैं हमारे संस्थान से 60 बच्चों ने नेट-जेआरएफ क्वालिफाई किया है। हमारी 13 टीमों ने आॅल इंडिया इंटर युनिवर्सिटी के लिए क्वालिफाई किया हैं। हमारे एक छात्र कुलदीप यादव ने जुड़ो में व एक छात्रा विजय लक्ष्मी ने जिम्नास्टिक में ब्रांज मेडल प्राप्त कर संस्थान को गौरवान्वित किया हैं आप सभी को हमारी तरफ से हार्दिक बधाई। हम शीघ्र ही आप सभी के लिए एक सम्मान समारोह का भी आयोजन करने जा रहे हैं। हमने कई देशों से एमओयू साइन किया हैं और ऐसे ही एक एमओयू के तहत जर्मनी के दो छात्र आगामी सत्र से यहां पढ़ने आएंगे और यहां के दो छात्र जर्मनी जाएंगे। मैं आप सभी से आज यह अनुरोध करता हुं कि आप सभी इसी प्रकार संस्थान को आगे ले जाने में हमारी सहायता करें जिससे कि हम अपने संस्थान को शिखर पर ले जा सकें। एक बार फिर से आप सभी को गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं।
 

Arrow

AIFF'D' License Course Organised by : LNIPE
 

Arrow

एलएनआईपीई टेबल टेनिस टीम “अन्तर क्षेत्रीय अन्तर विश्वविद्यालयीन” प्रतियोगिता के लिए क्वालिफाई
 

 

Arrow

Jashn Youth Festival at LNIPE Gwalior. Jan 2018
 

 

Arrow

Mini Marathan to Celebrate the Birth Anniversary of Swami Vivekananda 12 jan. 2018
 

 

Arrow

Free Eye check up and Heart checkup Camp in LNIPE
 

 

 एलएनआईपीई में दो दिवसीय निःशुल्क नेत्र, ह्दय एवं स्त्री रोग परीक्षण शिविर संपन्न

लक्ष्मीबाई राष्ट्रीय शारीरिक शिक्षा संस्थान, ग्वालियर में रतन ज्योति नेत्रालय एवं आर.जे.एन. अपोलो स्पेक्ट्रा हॉस्पिटल के संयुक्त तत्वाधान में संस्थान के प्राध्यापकों, प्रशासनिक अधिकारियों, कर्मचारियों एवं छात्रों के लिए दो दिवसीय निःशुल्क नेत्र, ह्दय एवं स्त्री रोग परीक्षण शिविर का आयोजन किया गया। शिविर का शुभारंभ संस्थान के कुलपति प्रो. दिलीप कुमार डुरेहा व कार्यक्रम की अध्यक्षता कुलसचिव प्रो. विवेक पाण्डे ने किया। शिविर के आरंभिक सत्र में वरिष्ठ नेत्र रोग विशेषज्ञ डॉ. पुरेन्द्र भसीन एवं ह्दय रोग विशेषज्ञ डॉ. दुष्यंत देव ने संस्थान परिवार के सभी सदस्यों से रविंद्रनाथ टैगोर सभागार में नेत्र व ह्दय रोग संबधित विषय पर व्याख्यान दिया व उन्हें इन रोगों के रोकथाम, उपचारों व व्यायामों के बारे में बताया। शिविर में नेत्र रोगों के 167 एवं ह्दय रोगों के 47 संस्थान सदस्यों ने परामर्श प्राप्त किया। ह्दय रोगों के 47 सदस्यों का निःशुल्क ई.सी.जी., ब्लड प्रेशर एवं ब्लड शुगर जांच भी किया गया।
शिविर व कार्यक्रम का संचालन स्वास्थ केंद्र प्रभारी डॉ. वी.डी. बिन्दल ने किया। प्रो. विल्फ्रेड वॉज, श्री आशीष आरोनकर व डॉ. विश्वकाश जैन ने भी शिविर के संचालन में अपना सहयोग दिया।

 

Arrow

Closing ceremony of 7days Certificate Course in Adapted Phy. Education
 

 

Arrow

एलएनआईपीई व प्रो-एएम के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित जिम्नास्टिक लीग का प्रमोचन.
 

 

लक्ष्मीबाई राष्ट्रीय शारीरिक शिक्षा संस्थान में आज प्रातः 11.00 बजे संस्थान के रविंद्रनाथ टैगोर सभागार में प्रो-एएम व एलएनआईपीई के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित भारत के पहले जिम्नास्टिक लीग का प्रमोचन प्रो. दिलीप कुमार डुरेहा (कुलपति, एलएनआईपीई) के मुख्य आतिथ्य मंे हुआ। इस अवसर पर सम्मानीय अतिथि सुश्री कृपाली सिंह पटेल (अर्जुन अवार्डी, रिदमिक जिम्नास्टिक, भारत) व सुश्री नीतु सिंह (कोच, रिदमिक जिम्नास्टिक टीम, भारत) रहीं। समारोह में प्रो-एएम के निदेशक श्री सुरेंद्र शर्मा, डाॅ. समिरन चक्रवर्ती, डाॅ. विवेक पांडे (कुलसचिव, एलएनआईपीई), प्रो. जी.डी घई भी विशिष्ट अतिथियों के रूप में उपस्थित रहें। समारोह का आरंभ अतिथियांे के स्वागत के साथ हुआ व सबसे पहले के मुख्य अतिथि कुलपति प्रो. डुरेहा, सम्मानीय अतिथि सुश्री कृपाली सिंह पटेल व सुश्री नीतु सिंह समेत सभी विशिष्ट अतिथियों का स्वागत किया गया। कुलपति प्रो. डुरेहा ने प्रमोचन समारोह में जिम्नास्टिक लीग का पहला प्री काॅम्पटिशन टेलर प्रमोचित किया। इस क्लिप के माध्यम से डाॅ. दीपा कर्माकर (ओलम्पियन, भारत) व श्री बी.एस नंदी (द्रोणाचार्य अवार्डी) ने भारत के पहले जिम्नास्टिक लीग के लिए अपनी शुभकामनाएं दी। सुश्री कृपाली सिंह पटेल ने जिम्नास्टिक लीग की आधिकारिक वेबसाइट proamgymnasticleague.com  व सोशल मीडिया साइटस (फेसबुक व युटयूब पेज) का लाइव प्रमोचन किया इन माध्यमों के द्वारा कोई भी व्यक्ति जिम्नास्टिक लीग से जुड़ी किसी भी सूचना को अपनी सुविधा अनुसार प्राप्त कर सकता हैं। सभी अतिथियों ने समारोह में जिम्नास्टिक लीग के प्री-पोस्टर का प्रमोचन भी किया जिसके उपरांत संस्थान के कुलपति प्रो. दिलीप कुमार डुरेहा का संबोधन हुआ। अपने संबोधन में कुलपति डुरेहा ने कहा कि आज हम सभी के लिए यह गर्व का विषय हैं कि भारत के पहले जिम्नास्टिक लीग का प्रमोचन हमारे संस्थान से हुआ हैं। हम सभी अत्यंत ही प्रसन्न है कि हमें यह अवसर मिला। यह हमारे संस्थान की बड़ी उपलब्धि हैं इसके कारण हमारे छात्रों को काफी कुछ सीखने का अवसर मिलेगा क्योंकि इस लीग के माध्यम से छात्र प्रतियोगिता का व्यवहारिक अनुभव ले सकेंगे। हमारे छात्रों के लिए यह एक बतौर शिक्षार्थी, शिक्षक व मैच आधिकारिक सीखने का स्वर्णिम अवसर हैं। मैं अपने व समस्त संस्थान परिवार की तरफ से सुश्री कृपाली सिंह पटेल व सुश्री नीतुबाला सिंह जी को धन्यवाद देता हूं कि आपने अपने बहुमूल्य समय में से हमारे लिए समय निकाला। मैं प्रो-एएम की समस्त टीम व संस्थान परिवार को जिम्नास्टिक लीग के प्रमोचन के लिए धन्यवाद व बधाई देता हुं। कुलपति प्रो. डुरेहा के उपरांत सुश्री कृपाली सिंह पटेल का संबोधन हुआ। अपने सबोधन में सुश्री कृपाली ने कुलपति प्रो. डुरेहा व एलएनआईपीई प्रशासन को जिम्नास्टिक लीग के प्रमोचन पर आमंत्रित करने के लिए धन्यवाद कहा और कहा कि हमारे देश में न तो प्रतिभा की कोई कमी हैं और न ही अच्छे प्रशिक्षकों की बस उन्हें पहचानने की आवश्यक्ता हैं। इस लीग के माध्यम से (जो कि 6-12 वर्ष के बच्चों के लिए हैं) हम उन्हें पहचानने व मंच प्रदान करने का कार्य करेंगें जिससे कि जब वो अंर्तराष्ट्रीय मानक जो कि 13 वर्ष हैं तक पहुंचे वह प्रतियोगिताओं के लिए तैयार हो। हम अंर्तराष्ट्रीय रैकिंग में भारत को शीर्ष 5 में ले जाना चाहते हैं इसके लिए हमने 500 क्लब 10,000 प्रशिक्षक 50,000 खिलाड़ी का तैयार करने का आरंभिक लक्ष्य रखा हैं। प्रमोचन समारोह का संचालन व धन्यवाद प्रस्ताव डाॅ. मनीष ने प्रेषित किया।
 

Arrow

Inauguration ceremony of 7days Certificate Course in Adapted Phy. Education
 

 

लक्ष्मीबाई राष्ट्रीय शारीरिक शिक्षा संस्थान में “एडाप्टेड फिजिकल एजूकेशन” विषय पर आयोजित सात दिवसीय प्रमाण पत्र कार्यक्रम का शुभारंभ संस्थान के कुलपति प्रो. दिलीप कुमार डुरेहा के मुख्य आतिथ्य में हुआ। कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि प्रो. रेबेका (कैलिफोर्निया स्टेट युनिवर्सिटी, चिको, संयुक्त राज्य अमेरिका) व मिस. मारसी पोप (कैलिफोर्निया स्टेट युनिवर्सिटी, चिको, संयुक्त राज्य अमेरिका) रहीं। अमेरिकी अतिथि अपनी 6 सदस्यीय टीम के साथ इस कार्यक्रम के लिए संस्थान पधारी हैं। प्रो. रेबेका विकलांगता में मानव प्रदर्शन व संचलन अध्ययन में पीएचडी हैं और विगत 25 वर्षो से प्रो. रेबेका एडाप्टेड फिजिकल एजूकेशन व आॅटिज्म विषय पर कार्य कर रही हैं। प्रो. रेबेका ने एडाप्टेड फिजिकल एजूकेशन व आॅटिज्म विषय पर 20 से अधिक राष्ट्रीय व अंर्तराष्ट्रीय पेपर के साथ ही 3 किताबें भी लिखी हैं। प्रो रेबेका वर्तमान में कैलिफोर्निया स्टेट युनिवर्सिटी, के किनिसीआॅल्जी विभाग में कार्यरत हैं। प्रमाण पत्र कार्यक्रम की दूसरी विशेषज्ञ मिस पोप एक फिटनेस इंस्ट्रक्टर हैं और उन्होने अपना स्नातक एडाप्टेड फिजिकल एक्टिविटी विषय में किया हैं। प्रो. रेबेका की तरह ही मिस पोप भी इस क्षेत्र में 25 वर्षों से कार्य कर रही हैं। मिस पोप ने राष्ट्रीय व अंर्तराष्ट्रीय स्तर पर समावेशी शारीरिक गतिविधि व गतिविधि संशोधन रणनीति जैसे विषयों पर पेपर प्रस्तुत किया हैं। समारोह में श्री सुनिल (विभागाध्यक्ष, एडाप्टेड फिजिकल एजूकेशन, स्टेप बाई स्टेप स्कूल, दिल्ली) व श्रीमती शालू शर्मा भी विशेष अतिथियों के रूप में उपस्थित रहीं। शुभारंभ समारोह के आरंभ में मुख्य अतिथि कुलपति प्रो. दिलीप कुमार डुरेहा, विशिष्ट अतिथियों प्रो. रेबेका व मिस. मारसी पोप का भारतीय परंपरानुसार शाॅल, श्रीफल, व पुष्प गुच्छ से स्वागत किया गया। अतिथियों कि स्वागत उपरांत श्रीमती शालू ने सभी को प्रमाण पत्र कार्यक्रम के उददेश्यों से परिचित कराया और कहा कि मेरा यह मानना हैं कि सभी बच्चों का यह हक हैं कि वो खेल सकें। शारीरिक गतिविधि या खेल वह क्षेत्र हैं जहा सभी बच्चे एक साथ खडे़ होते हैं और एक-दूसरे के माध्यम से काफी कुछ सीखते हैं इसलिए यह हमारा दायित्व हैं कि हम सभी ऐसे बच्चों की सहायता को आगे आए जो ऐसी गतिविधि को पूर्ण करने में समस्याओें का सामना कर रहे हैं। श्री सुनिल ने भी अपने संबोधन में श्रीमती शालू शर्मा की बातों का समर्थन करते हुए कहा कि मै पिछले 10 सालों से इस क्षेत्र में कार्य कर रहा हुं और मै आपको साफ करना चाहंगा कि शिक्षा व कोचिंग मे व्यवहारिक रूप से काफी अंतर हैं। हम इस क्षेत्र में जब कार्य करते हैं तो हम सूक्ष्म आंकलन व देखरेख करते है और हम यह पाते हैं कि कभी किसी बच्चे के लिए अपना पैंट पहनना तो कभी किसी के लिए अपने जूते के फीते को बांधना उनके लिए सबसे कठिन कार्यों में से होता हैं। हम उनकी इन समस्याओं को न ही सिर्फ देखते हैं पर अगली बार के लिए ऐसे कार्य या टास्क उन्हें देते हैं जिससे कि वह हंसते-खेलते उस कार्य को करना सीख जाएं। श्री सुनिल के संबोधन के उपरांत प्रो. रेबेका संबोधन हुआ अपने संबोधन में प्रो. रेबेका ने सर्वप्रथम संस्थान के कुलपति प्रो. डुरैहा, कुलसचिव प्रो. पांडे, कार्यक्रम समन्वयक प्रो. एल.एन सरकार व एलएनआईपीई प्रशासन को संस्थान के आमंत्रण के लिए धन्यवाद कहा। प्रो. रेबेका ने सभी प्रतिभागियों के समक्ष कार्यक्रम की रूपरेखा पर चर्चा की और कहा कि इन 7 दिनों में आप सैद्धान्तिक अध्ययन के साथ ही व्यवहारिक तौर पर कैसे एपीई अर्थात एडाप्टेड फिजिकल एजूकेशन के लिए रणनीति, पाठ्यक्रम बनाना जानेंगे। हमने इस 7 दिवसीय कार्यक्रम को सिर्फ क्लासरूम तक नही बांधा हैं अपितु हमने शनिवार के दिन को एडाप्टेड स्पोट्र्स डे के रूप में आयोजित किया हैं जिसमें यहां के बच्चे शामिल हांेगे और आप उनसे व्यवहारिक तौर पर संपर्क स्थापित कर उनकी समस्याओं को समझने व उन्हें सुलझाने का प्रयास करेंगे। एपीई के विषय में लोगों की अपनी-अपनी सोच हैं पर मेै यह मानती हुं कि एपीई का सही अर्थ अच्छा शिक्षक होना हैं क्यांेकि एक अच्छा शिक्षक वह नही जो सिर्फ अच्छे छात्रों पर ध्यान दे बल्कि वह है जो सभी छात्रों का ध्यान दें और अगर कोई छात्र कमजोर हैं तो उस पर विशेष ध्यान दें और यकीन मानिए यही एपीई हैं। प्रो. रेबेका के उपरांत कुलसचिव प्रो. पांडे को संबोधन हुआ। अपने संबोधन में कुलसचिव प्रो. पांडे ने अतिथियों का कार्यक्रम के लिए संस्थान आगमन पर स्वागत व धन्यवाद किया और कहा कि एपीई को सिर्फ खेलों तक ही सीमित न करके आम दिनचर्या के कार्यो से जोड़कर देखे जाने की आवश्यक्ता हैं। हां यह अवश्य हैं कि संचलन व गतिविधियों के लिए खेल एक महत्वपूर्ण माध्यम है। कुलसचिव प्रो. पांडे के उपरांत कुलपति प्रो. डुरेहा का संबोधन हुआ। अपने संबोधन में कुलपति प्रो. डुरेहा ने में एपीई के बारे में कहा कि जब मैने एक पीई टीचर के रूप में मसूरी के एक स्कूल से अपना करियर आरंभ किया था तब मेरे सामने ऐसे बच्चे आएं और तब वहां श्री छेत्री जो कि सेना से रिटायर्ड थे वह उनका ध्यान रखते थे। यह काफी कठिन कार्य होता हैं क्योंकि सामान्यतः हम उन बच्चों की समस्याओं को बेहतर ढ़ग से समझ नही पाते। फिर मै जब बीएचयू आया तब वहां कुछ बच्चों ने इन विषयों पर अध्ययन व पीएचडी किया और मै भी इन सभी के साथ ही ऐसे बच्चों के बारे में पढ़ना और जानना शुरू किया। आज मैं आपको यह बताना चाहुुंगा कि भारत में 4 करोड़ से अधिक बच्चे ऐसे हैं जो कि दिव्यांग या आॅटिज्म हैं। यह हम सभी का दायित्व हैं कि हम सभी आगे आए और ऐसे बच्चों की सहायता करें। माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र्र मोदी जी भी इस विषय पर विशेष ध्यान दे रहें हैं और मै इस मंच के माध्यम से आपसे यह वादा करता हुं कि मैं अपने कार्यकाल के खत्म होने से पहले यहां एपीई के लिए एक अलग विभाग बनाकर जाउंगा। इस विषय पर मैने खेल मंत्रालय व युवा कार्यक्रम के साथ ही स्वास्थ मंत्रालय से चर्चा भी कर ली है। मैं चाहता हुं कि एक पीई टीचर ही एपीई टीचर बने अलग एपीई टीचर बनाने की कोई आवश्यक्ता नही हैं। कार्यक्रम में धन्यवाद प्रस्ताव कार्यक्रम समन्वयक प्रो. एल.एन सरकार व कार्यक्रम संचालन श्रीमती शालू शर्मा ने किया।

Arrow

Closing of Inter Zone Inter University Women Football Tournament

 

अन्तर क्षेत्रीय अन्र्तविश्वविद्यालयीन महिला (फुटबाॅल) प्रतियोगिता में अन्नामलाई ने स्वर्ण, तिरूवल्लूवर ने रजत व मद्रास ने जीता कांस्य पदक
लक्ष्मीबाई राष्ट्रीय शारीरिक शिक्षा संस्थान, में दिनांक 27.12.2017 से 01.01.2018 तक आयोजित अन्तर क्षेत्रीय अन्र्तविश्वविद्यालयीन महिला फुटबाॅल प्रतियोगिता का समापन आज श्री अनिल कुमार (महानिरीक्षक, पुलिस, ग्वालियर) के मुुख्य आतिथ्य में संपन्न हुआ। श्री कुमार को 2010 में पुलिस मेडल व कार्यकाल में मेधावी सेवा के लिए राष्ट्रपति पुलिस पदक से सम्मानित किया गया हैं। समापन समारोह में विशिष्ट अतिथि प्रो. रेबेका (कैलिफोर्निया स्टेट युनिवर्सिटी, चिको, संयुक्त राज्य अमेरिका) व मिस. मारसी पोप (कैलिफोर्निया स्टेट युनिवर्सिटी, चिको, संयुक्त राज्य अमेरिका) रहीं। दोनों ही अमेरिकी अतिथि अपनी टीम के साथ कल से आयोजित कार्यशाला के लिए संस्थान आए हुए हैं। समापन समारोह के आरंभ में संस्थान के कुलपति प्रो. दिलीप कुमार डुरेहा ने मुख्य अतिथि श्री कुमार, विशिष्ट अतिथियों प्रो. रेबेका व मिस. मारसी पोप का भारतीय परंपरानुसार शाॅल, श्रीफल, व पुष्प गुच्छ से स्वागत किया। इसके उपरांत संस्थान के कुलपति प्रो. दिलीप कुमार डुरेहा सहित सभी अन्य अतिथियों का भी स्वागत किया गया। अतिथियों के स्वागत उपरांत कुलपति प्रो. डुरेहा ने सभी मैच अधिकारीयों को प्रतियोगिता के निष्प्क्ष व सफल आयोजन के लिए सम्मान स्वरूप स्मृति चिह्न प्रदान किया। आयोजन सचिव डाॅ. अनंदिता दास ने इसके उपरांत समारोह में अन्तर क्षेत्रीय अन्र्तविश्वविद्यालयीन महिला फुटबाॅल प्रतियोगिता की संक्षिप्त रिपोर्ट प्रस्तुत की। इसके उपरांत संस्थान के कुलपति प्रो. डुरेहा ने समारोह का संबोधन हुआ। अपने संबोधन में कुलपति प्रो. डुरेहा सर्वप्रथम सभी को नववर्ष की शुभकामनाए दी। कुलपति प्रो. डुरेहा ने मुख्य अतिथि श्री कुमार, विशिष्ट अतिथियों प्रो. रेबेका, मिस. मारसी पोप व उनकी टीम का संस्थान आगमन पर धन्यवाद व स्वागत किया। कुलपति प्रो. डुरेहा ने सभी टीमों, प्रशिक्षकों, टीम प्रबंधकों, व खिलाड़ियों का भी प्रतियोगिता के लिए संस्थान आगमन पर धन्यवाद किया। कुलपति प्रो. डुरेहा ने इसके उपरांत प्रतियोगिता के सफल आयोजन के लिए कुलसचिव प्रो. पांडे, आयोजन सचिव डाॅ. अनंदिता दास व उनकी टीम सहित सभी प्राध्यापकों छात्रों व कर्मचारियों को बधाई दिया। प्रतियोगिता के बारे में कुलपति प्रो. डुरेहा ने कहा कि जीतना हारना एक तरफ हैं, पर सार यह हैं कि जो भी टीम जीतती हैं वह मिले अवसरों का लाभ उठाती हैं और हारने वाली टीम ऐसा करने में असफल रह जाती हैं। कुलपति प्रो. डुरेहा के उपरांत श्री कुमार का संबोधन हुआ अपने संबोधन में श्री कुमार ने सभी को नववर्ष की शुभकामनाएं दी और कहा कि आज दोनो टीमों के मध्य मैच जीतने को लेकर होते संघर्ष को देखकर मुझे अत्यंत ही प्रसन्नता हुई। दोनो ही टीमों ने मैच में अपना श्रेष्ठ देने का प्रयास किया। जैसा कि हम जानते हैं जब भी दो टीमों के मध्य मुकाबला होता है तो कोई एक ही टीम विजयी होती हैं और विजयश्री उसी टीम के हाथ लगती हैं जिसने मैच में कम गलतियां की हो आज अन्नामलाई ऐसा करने में सफल रही। मैं अन्नामलाई समेत सभी प्रतियोगी टीमों को अपनी ओर से बधाई देता हुुं और आप सभी को भविष्य के लिए शुभकामनाएं।
समापन समारोह से पहले आज प्रातःकालीन सत्र में तीसरे व चैथे स्थान के लिए गोवा विश्वविद्यालय व मद्रास विश्वविद्यालय के मध्य मुकाबला हुआ व सांयकालीन सत्र में अन्नामलाई व तिरूवल्लुवर विश्वविद्यालय के मध्य फाइनल मैच खेला गया। आज के दोनो ही मैच में उम्मीद अनुरूप काफी कड़ी प्रतियोगिता देखने को मिली। पहले मैच में दोनो ही टीम अतिरिक्त समय तक 1-1 की बराबरी पर रही और परिणाम के लिए पेनाल्टी शुटआउट का सहारा लिया गया जिसमें मद्रास के लिए समुंद्रेश्वरी, सौंदर्या व कलाईसेल्वी गोल करने में सफल रही जबकि गोवा की तरफ से केवल एश्र्टिड ही गोल करने में सफल रही। इस मैच को मद्रास ने 4-2 से जीतकर कांस्य पदक के लिए अपना स्थान पक्का किया। फाइनल मैच का पहला हाॅफ बराबरी पर अर्थात 0-0 पर खत्म हुआ। दूसरे हाॅफ के 55वें मिनट में राधिका के आत्मघाती गोल से तिरूवल्लुवर की टीम 1-0 से पीछे हो गई। मैच के अंत तक तिरूवल्लुवर ने मैच में वापसी करने का प्रयास करती रही परंतु व ऐसा करने में असफल रही और अन्नमलाई विश्वविद्यालय ने मैच व प्रतियोगिता को 1-0 से जीत लिया।

प्रतियोगिता के संपन्न होने के बाद टीमों का स्थान क्रमशः हैं-
1. अन्नमलाई विश्वविद्यालय (स्वर्ण पदक)
2. तिरूवल्लुवर विश्वविद्यालय (रजत पदक)
3. मद्रास विश्वविद्यालय (कांस्य पदक)

 
Arrow

अन्तर क्षेत्रीय अन्र्तविश्वविद्यालयीन महिला (Football) प्रतियोगिता का शुभांरभ

 

लक्ष्मीबाई राष्ट्रीय शारीरिक शिक्षा संस्थान में आज, दिनांक 27.12.2017 से 01.01.2018 तक आयोजित अन्तर क्षेत्रीय अन्र्तविश्वविद्यालयीन महिला फुटबाॅल प्रतियोगिता का शुभारंभ प्रो. संगीता शुक्ला (कुलपति, जीवाजी, विश्वविद्यालय) के मुख्य आतिथ्य मे हुआ। समारोह में विशिष्ट अतिथि प्रो. लवली शर्मा (कुलपति, राजा मानसिंह तोमर, संगीत व कला विश्वविद्यालय) रहीं। शुभांरभ समारोह में सर्वप्रथम संस्थान के कुलपति प्रो. दिलीप कुमार डुरेहा ने मुख्य अतिथि प्रो. संगीता शुक्ला व विशिष्ट अतिथि प्रो. लवली शर्मा का भारतीय परंपरानुसार शाॅल, श्रीफल, व पुष्प गुच्छ से स्वागत किया। अतिथियांे के स्वागत उपरांत एलएनआईपीई की फुटबाॅल टीम की कप्तान नौशिन ने सभी टीमों को खेल को निष्पक्षता व खेल भावना से खेलने की शपथ दिलायी व मुख्य अतिथि प्रो. संगीता शुक्ला ने प्रतियोगिता के आरंभ करने का औपचारिक एलान किया। समारोह में स्वागत भाषण प्रतियोगिता की आयोजन सचिव डाॅ. अनंदिता दास व धन्यवाद प्रस्ताव डाॅ. आशीष फुलकर ने दिया।
आज प्रातःकालीन सत्र में 4 मैच खेले गए। जिसमें पहला मैच मुम्बई विश्वविद्यालय व पंजाब विश्वविद्यालय के मध्य खेला गया। इस मैच में मुम्बई की टीम ने रीटा के 3 व अम्रुथा के 1 गोल के बदौलत 4-0 की आसान जीत हासिल की। दूसरा मैच कालीकट विश्वविद्यालयच व मनीपुर विश्वविद्यालय के मध्य खेला गया जिसमें कालीकट ने मनीपुर की टीम के खिलाफ 11-0 की बड़ी जीत दर्ज की। मैच में कालीकट विश्वविद्यालय की तरफ से निखिला, एशले ने 3-3, अथुल्या, निधिया ने 2-2 व अनाघा ने 1 गोल किया। तीसरा मैच मद्रास विश्वविद्यालय व रांची विश्वविद्यालय के मध्य खेला गया। इस मैच में मद्रास की टीम ने रांची को 4-1 से पराजित किया। मद्रास की टीम की तरफ से मालविका, संधिया, नंदथिनी, व गीतांजली ने 1-1 गोल किए जबकि रांची की टीम की तरफ से एकमात्र गोल आशा कुमारी ने किया। चैथा व अंतिम मैच जीजेयु, हिसार व एसजीबी, अमृतसर के मध्य खेला गया जिसमें हिसार की टीम ने अमृतसर की टीम को 7-1 के बड़े अंतर से पराजित किया। हिसार की टीम की तरफ से दीपिका ने 5 व पुजा, निर्मला ने 1-1 गोल किया। मैच में अमृतसर की टीम की तरफ से एक गोल पुजा ने किया।
सांयकालीन सत्र का पहला मैच गोवा व जीएनडीयु अमृतसर के मध्य खेला गया। इस मैच में गोवा ने मारले कारडोज़ो के 2 गोलों के दम पर अमृतसर को 2-0 से पराजित किया। सत्र का दूसरा मैच एलएनआईपीई, ग्वालियर व कुरूक्षेत्र विश्वविद्यालय के मध्य खेला गया। इस मैच में एलएनआईपीई की टीम ने मैच के आरंभ से ही कुरूक्षेत्र पर दबाव बनाए रखा और कुरूक्षेत्र के खिलाफ आक्रामक रणनीति अपनायी। मैच का पहला गोल रीज़ा ने खेल के तीसरे मिनट में किया। इसके उपरांत मैच के 7वें मिनट में नौशिन व 26वें मिनट में ओशिन ने गोल कर मध्यांतर तक स्कोर को 3-0 कर दिया। मैच के दूसरे मध्यांतर में भी एलएनआईपीई का आक्रमण जारी रहा और थियान ने 47वें व 54वें, यापंग ने 55वें व मोंगमिट ने 82वें मिनट में गोल कर स्कोर को 7-0 कर एलएनआईपीई को बड़ी जीत दिलायी। सत्र का तीसरा मैच तिरूवल्लुर विश्वविद्यालय, वेल्लुर व उत्कल विश्वविद्यालय के मध्य खेला गया। इस मैच रोमाचंक रहा और दोनों ही टीमों ने एक-दूसरे को मैच में संघर्ष कराया। मैच के पहले हाॅफ में उत्कल की तरफ से जाबामनी ने 31वें मिनट व तिरूवल्लुर की टीम की तरफ से संधिया ने 41वें मिनट में गोल किया। पहले हाॅफ तक स्कोर 1-1 की बराबरी पर रहा। दूसरे हाॅॅफ में तिरूवल्लुर की टीम की तरफ नथिया ने मैच के अंतिम क्षणांे में गोल कर अपनी टीम को जीत दिलायी। आज का 8वां व अंतिम मैच अन्नामलाई विश्वविद्यालय व बीआरए विश्वविद्यालय बिहार के मध्य खेला गया जिसमें अन्नामलाई विश्वविद्यालय की टीम ने बीआरए विश्वविद्यालय की टीम को 11-0 के बड़े अंतर से पराजित किया। मैच में अन्नामलाई की टीम की तरफ से मुथुसेलवी ने 5, नंदिनी ने 4, लक्ष्मी व विजयलक्ष्मी ने 1-1 गोल किया जबकि बिहार की टीम की मैच में एक भी गोल नही कर सकी।

 

Arrow

Closing of Inter University (West Zone & Inter Zone) Football (Women) Tournament in LNIPE, Gwalior 2017

 

लक्ष्मीबाई राष्ट्रीय शारीरिक शिक्षा संस्थान, में आज दिनांक 21.12.2017 से 25.12.2017 तक आयोजित पश्चिम क्षेत्रीय अन्र्तविश्वविद्यालयीन महिला फुटबाॅल प्रतियोगिता का समापन श्री आर.पी पांडे (महानिरीक्षक, सीआरपीएफ, सीटीसी, ग्वालियर) के मुुख्य आतिथ्य में संपन्न हुआ। श्री पांडे को उनके 32 साल के लंबे करियर में मेधावी सेवा के लिए राष्ट्रपति पुलिस पदक, युनाइटेड पुलिस पदक, आंतरिक सुरक्षा पदक, विदेश सेवा पदक व अंर्तराष्ट्रीय सुरक्षा पदक जैसे सम्मानों से सम्मानित किया गया हैं। समापन समारोह के आरंभ में संस्थान के कुलपति प्रो. दिलीप कुमार डुरेहा ने मुख्य अतिथि श्री आर.पी पांडे का भारतीय परंपरानुसार शाॅल, श्रीफल, व पुष्प गुच्छ से स्वागत किया। इसके उपरांत संस्थान के कुलपति प्रो. दिलीप कुमार डुरेहा सहित सभी अन्य अतिथियों का भी स्वागत किया गया। अतिथियों के स्वागत उपरांत आयोजन सचिव डाॅ. अनंदिता दास ने पश्चिम क्षेत्रीय अन्र्तविश्वविद्यालयीन महिला फुटबाॅल प्रतियोगिता की संक्षिप्त रिपोर्ट प्रस्तुत की। संस्थान के कुलपति प्रो. डुरेहा ने समारोह में अपने संबोधन में सर्वप्रथम सभी को क्रिसमस की शुभकामनाए दी व सभी टीमों, प्रशिक्षकों व टीम प्रबंधकों को इस अवसर पर रात्रि भोजन के लिए आमंत्रित किया। कुलपति प्रो. डुरेहा ने मुख्य अतिथि श्री पांडे का संस्थान आगमन पर धन्यवाद व स्वागत किया। कुलपति प्रो. डुरेहा ने सभी टीमों, प्रशिक्षकों, टीम प्रबंधकों, व खिलाड़ियों का भी प्रतियोगिता के लिए संस्थान आगमन पर धन्यवाद किया। कुलपति प्रो. डुरेहा ने अपने संबोधन में सभी को बताया कि श्री पांडे सिर्फ एक अच्छे सिपाही ही नहीं बल्कि एक अच्छे हाॅकी खिलाड़ी भी हैं। प्रतियोगिता के बारे में कुलपति प्रो. डुरेहा ने कहा कि जीतना हारना एक तरफ हैं बस आप यह समझ लें कि जिस टीम ने मैच में मिले अवसरों का लाभ उठाया होगा उन्होने विजय प्राप्त की होगी और जिन्होने अवसरों का लाभ नही उठाया होगा उन्हें हार मिली होगी। लीग मैचांे की हार-जीत का प्रभाव आपके आगामी प्रतियोगिता पर पड़ेगा क्योंकि लीग मैचों के परिणामस्वरूप जो भी टीम निचले पायदानो पर होती हैं उनके आगामी प्रतियोगिता में मैच उतने ही मुश्किल होते हैं। आप सभी पश्चिम क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करने जा रहे हैं आप सभी को मेरी तरफ से शुभकामनाएं। कुलपति प्रो. डुरेहा के उपरांत मुख्य अतिथि श्री पांडे का संबोधन हुआ। अपने संबोधन में श्री पांडे ने कहा कि मेरे लिए यह सम्मान का विषय हैं कि मै आज यहां आप सभी के समक्ष हुं। मै आप सभी को बताना चाहता हुं कि आप सभी अत्यंत ही भाग्यशाली हैं कि आप सभी यहां मैच खेल रहे हैं व कुछ खिलाड़ी यहां शिक्षा भी प्राप्त कर रहे हैं। यह संस्थान न ही भारत में अपितु एशिया में खेल व शारीरिक शिक्षा का प्रतिष्ठित संस्थान हैं। इस संस्थान से श्री कर्ण सिंह, श्री लाभ सिंह व श्री अजमेर सिंह जैसे खिलाड़ी निकले हैं। आप सभी को मै यह भी बताना चाहुंगा कि कुलपति प्रो. डुरेहा स्वयं भी हाॅकी के राष्ट्रीय खिलाड़ी रहे है। मुझे आज यहां आमंत्रित करने के कुलपति प्रो. डुरेहा को मेरी तरफ से धन्यवाद। आज दोनो टीमों के मध्य मैच जीतने को लेकर होते संघर्ष को देखकर मुझे अत्यंत ही प्रसन्नता हुई। दोनो ही टीमों ने अच्छे खेल का प्रदर्शन किया। आपको खेलता देखकर मेरे मन में विचार आया हैं कि मै अपने वरिष्ठ अधिकारियों से चर्चा कर महिला फुटबाॅल टीम को आॅल इंडिया पुलिस गेम्स जोड़ने का प्रयास करूं। आप सभी अच्छा खेलें, सुरक्षित खेलंे व सबसे महत्वपूर्ण खेल भावना के साथ खेलंे। आप सभी को मेरी ओर से आगामी प्रतियोगिताओं के लिए शुभकामनाएं।
समापन समारोह से पहले आज के सभी लीग मैच संपन्न हुए। गोवा विश्वविद्यालय व एलएनआईपीई, ग्वालियर के मध्य आज का पहला मैच खेला गया। इस मैच में एलएनआईपीई की टीम व गोवा विश्वविद्यालय की टीम के मध्य मैच जीतने को लेकर कड़ा संघर्ष दिखाई दिया। दोनो ही टीम लगातार एक-दूसरे के गोल पोस्ट पर आक्रमण करती रही परंतु किसी भी टीम को मैच के हाॅफ तक सफलता नही मिली और पहला हाॅफ 0-0 की बराबरी पर खत्म हुआ। दूसरे हाॅफ में वेलानी ने मैच के अंतिम क्षणों में गोल कर गोवा को 1-0 से जीत दिलायी। दूसरा मैच मुम्बई विश्वविद्यालय व संत गडगे बाबा अमरावती विश्वविद्यालय के मध्य खेला गया। इस मैच में मुम्बई की टीम ने वैष्णवी के 2 व ज्योति के 3 गोल के दम पर अमरावती विश्वविद्यालय पर 5-1 से आसान जीत दर्ज की। तीसरा मुकाबला मुम्बई विश्वविद्यालय व एलएनआईपीई के मध्य खेला गया जिसमें कोई भी टीम गोल नहीं कर सकी और मैच 0-0 की बराबरी पर समाप्त हुआ। चैथा मैच गोव विश्वविद्यालय व संत गडगे बाबा अमरावती विश्वविद्यालय के मध्य खेला गया। इस मैच को गोवा ने मारलेट के 4 व नविला के 2 गोल के दम पर 6-0 से जीत लिया। सभी लीग मैचों के संपन्न होने के बाद टीमों का स्थान क्रमशः हैं-
1. गोवा विश्वविद्यालय
2. मुम्बई विश्वविद्यालय
3. एलएनआईपीई, ग्वालियर
4. संत गडगे बाबा अमरावती विश्वविद्यालय


 

Arrow

एलएनआईपीई मे शारीरिक शिक्षा में हिन्दी अनुवाद और समस्याएं विषय पर हुआ कार्यशाला का आयोजन

 

Arrow

Opening of Inter University (West Zone & Inter Zone) Football (Women) Tournament in LNIPE, Gwalior 2017

 

लक्ष्मीबाई राष्ट्रीय शारीरिक शिक्षा संस्थान में आज, दिनांक 21.12.2017 से 25.12.2017 तक आयोजित पश्चिम क्षेत्रीय अर्न्तविश्वविद्यालयीन महिला फुटबॉल का शुभारंभ सुश्री शांति मलिक (फुटबॉल में पहली महिला अर्जुन अवार्डी) के मुख्य आतिथ्य मे हुआ। समारोह में विशिष्ट अतिथि सुश्री शुक्ला दत्ता (अंर्तराष्ट्रीय खिलाड़ी व पूर्व अंडर 16, अंडर 19 महिला हेड कोच, भारत) रहीं। सुश्री शुक्ला दत्ता के नाम 500 राष्ट्रीय व अंर्तराष्ट्रीय गोल करने का “लिम्का बुक ऑफ रिकार्ड” भी हैं। शुभांरभ समारोह में सर्वप्रथम संस्थान के कुलपति प्रो. दिलीप कुमार डुरेहा ने मुख्य अतिथि सुश्री शांति मलिक व सुश्री शुक्ला दत्ता का भारतीय परंपरानुसार शॉल, श्रीफल, व पुष्प गुच्छ से स्वागत किया। अतिथियों के स्वागत उपरांत विशिष्ट अतिथि सुश्री शुक्ला दत्ता का संबोधन हुआ। अपने संबोधन में सुश्री दत्ता ने यह मेरे लिए सम्मान की बात हैं कि मुझे आज यहां आप सभी के समक्ष आने व अपने विचार रखने का अवसर मिला। सुश्री शांति मलिक के बारे में बोलते हुए सुश्री दत्ता ने कहा कि मैं अत्यंत ही भाग्यशाली रही कि मुझे शांति दीदी के साथ खेलने का अवसर मिला। शांति दीदी एक महान खिलाड़ी रही हैं। आप सभी को मैं अपनी ओर से प्रतियोगिता के लिए शुभकामनाएं देती हुं आप सभी अच्छा व सुरक्षित खेलें। आप सभी से मैं यह आशा करती हुं कि आप सभी ऐसी स्पर्धाओं के माध्यम से आगे आए और देश के लिए ट्रॉफियां जीत देश का सम्मान ओर बढ़ाए। सुश्री शुक्ला दत्ता के संबोधन के उपरांत सुश्री शांति मलिक का संबोधन हुआ। अपने संबोधन में सुश्री मलिक ने कहा कि हम दोनो ने लगभग एक साथ खेलना शुरू किया था तब भारत में फुटबॉल उतना प्रचलित खेल नही था जितना कि आज हैं। हमने इस खेल के विकास को अपने साथ ही बढ़ते हुए देखा हैं। आज के समय में फुटबॉल देश में काफी प्रचलित खेल बन चुका हैं। आज देश में कई तरह के लीग्स हो रहे हैं ऐसी लीग स्पर्धाएं खिलाड़ियों को अपना कौशल दिखाने व अपनी पहचान बनाने का अत्यंत ही महत्वपूर्ण मंच प्रदान कर रहे हैं। आप सभी प्रतियोगिता में अच्छा खेल दिखाए और अपनी खेल के माध्यम से अपनी टीम को जीत दिलाए आप सभी को मेरी शुभकामनाए। सुश्री शांति मलिक के संबोधन के उपरांत संस्थान के कुलपति प्रो. दिलीप कुमार डुरेहा का संबोधन हुआ। अपने संबोधन में कुलपति प्रो. डुरेहा ने कहा कि मलिक मैडम व दत्ता मैडम की उपस्थिति से एलएनआईपीई संस्थान आज धन्य हो गया। हम सभी को अपनी पुरूष प्रधान समाज वाली सोच को खत्म कर समानता की बात करनी चाहिए न ही केवल समाज में अपितु खेलों में भी। अन्य खेलों कि तरह फुटबॉल में भी जब चर्चाएं होती हैं तो हम सभी आमतौर पर पुरूष खिलाड़ियो डिएगो माराडोना व सुनिल छेत्री की बात करते हैं परंतु मलिक मैडम या दत्ता मैडम के नाम पर चर्चाएं नही करते। इस प्रतियोगिता में आप सभी अच्छा प्रदर्शन कर यह प्रमाणित कर दे कि महिलाएं किसी से भी कम नही। माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में चल रही भारतीय सरकार का खेलों पर विशेष ध्यान हैं। खेलों को बढ़ावा देने के लिए देश में कई तरह के लीग्स चल रहें हैं और महिलाओं की सॉकर लीग भी आरंभ हो चुकी हैंं हमे आशा हैं कि ऐसे लीग्स महिलाओं को आगे आने में सहायता प्रदान करेंगे। मैं आप सभी का संस्थान आगमन पर दिल से धन्यवाद व स्वागत करता हुं और आशा करता हुं कि आप सभी अच्छे खेल का प्रदर्शन करें। कुलपति प्रो. डुरेहा के संबोधन के उपरांत एलएनआईपीई की फुटबॉल टीम की कप्तान नौशिन ने सभी टीमों को खेल को निष्पक्षता व खेल भावना से खेलने की शपथ दिलायी व मुख्य अतिथि सुश्री शांति मलिक व विशिष्ट अतिथि सुश्री शुक्ला दत्ता ने संयुक्त तौर पर प्रतियोगिता के आरंभ करने का औपचारिक एलान किया। समारोह में स्वागत भाषण प्रतियोगिता की आयोजन सचिव डॉ. अनंदिता दास व धन्यवाद प्रस्ताव प्रो. विल्फ्रेड वॉज ने दिया।

 

Arrow

LNIPE मे आयोजित पश्चिम क्षेत्रीय अर्न्तविश्वविद्यालयीन टेनिस (पुरूष) प्रतियोगिता का समापन 2017

 

लक्ष्मीबाई राष्ट्रीय शारीरिक शिक्षा संस्थान मे आयोजित पश्चिम क्षेत्रीय अर्न्तविश्वविद्यालयीन टेनिस प्रतियोगिता-2017 (पुरूष वर्ग) का आज समापन श्री राहुल जैन (कलेक्टर, ग्वालियर) के मुख्य आतिथ्य में हुआ। समारोह में प्रो. एस मुखर्जी (प्रभारी कुलपति, एलएनआईपीई) व प्रो. विवेक पाण्डे (कुलसचिव, एलएनआईपीई) विशिष्ट अतिथि रहें। समापन समारोह विशिष्ट अतिथियों के स्वागत के साथ आरंभ हुआ। सर्वप्रथम प्रभारी कुलपति प्रो. मुखर्जी ने श्री राहुल जैन (कलेक्टर, ग्वालियर) का संस्थान आगमन पर स्वागत व अभिनंदन शॉल, श्रीफल व पुष्प गुच्छ देकर किया। इसके उपरांत अन्य अतिथियों का स्वागत भी इसी क्रम में किया गया। स्वागत उपरांत श्री राहुल जैन व प्रो. मुखर्जी ने टेनिस कोर्ट पर फाइनलस के दोनों टीमों के खिलाड़ियों के साथ ही मैच ऑफिसियल्स का परिचय लिया। जिसके उपरांत आयोजन सचिव डॉ. एम.एस राठौर ने पश्चिम क्षेत्रीय अर्न्तविश्वविद्यालयीन टेनिस प्रतियोगिता-2017 (पुरूष वर्ग) की एक संक्षिप्त रिपोर्ट प्रस्तुत की। इसके पश्चात् मुख्य अतिथि श्री राहुल जैन का संबोधन हुआ। अपने संबोधन में श्री जैन  ने सावित्रीबाई फूले विश्वविद्यालय, पूणे, उपविजेता मुम्बई विश्वविद्यालय व सभी प्रतिभागी टीमों को बधाई दी और कहा कि मेरी व्यक्तिगत रूचि भी टेनिस में हैं और मेरी पढ़ाई पुणे से हुई हैं और मैं टेनिस जिमखाने के पास रहा करता था जहां लोग आकर खेला करते थे। मुझे इस खेल को सीखने में रूचि थी और जॉब में आने के बाद मैने टेनिस खेलना प्रारंभ किया। मै हफ्ते में 2 से 3 दिन जीसीटीए कोर्ट पर खेलता हुं। टेनिस एक ऐसा खेल हैं जिसे आप किसी भी उम्र में प्रारंभ कर सकते हैं। मुझे इस स्पर्धा के बारे में संस्थान के कुलपति प्रो. दिलीप कुमार डुरैहा ने बताया और मुझे उद्घाटन समारोह के लिए आमंत्रित किया परंतु मुझे आवश्यक कार्य हेतू उस दिन शहर से बाहर जाना हुआ। हमें गर्व हैं कि ग्वालियर में एलएनआईपीई जैसी एक संस्था हैं। इस तरह की प्रतियोगिताएं दीवाली के त्योहार की तरह होती हैं जब हम अपने पूरे घर को साफ व प्रकाशित करते हैं। आज कुछ ऐसा ही क्षण हैं, टेनिस कोर्ट जिस तरह प्रकाशित है मैं एलएनआईपीई प्रशासन से निवेदन करूंगा कि यह ऐसे ही साफ व प्रकाशित रहें। मै प्रतियोगिता के सफल आयोजन के लिए समस्त एलएनआईपीई प्रशासन, प्राध्यपकों, आयोजन टीम, ऑफिसियल्स, सभी टीम व टीम मैनेजर को बधाई देता हुं। ऐसी निष्पक्ष व सफल प्रतियोगिताओं का होना आवश्यक हैं जिससे कि हम अच्छे खिलाड़ी तैयार कर सकें। हमारे देश को ओलम्पिक, कॉमनवेल्थ व एशियन गेम्स जैसे प्रतियोगिताओं के लिए अच्छे खिलाड़ियों की आवश्यक्ता हैं इसलिए ऐसे स्पर्धाओं व ऐसे संस्थानों की भुमिका महत्वपूर्ण हो जाती हैं। ऐसी प्रतियोगिताओं व खेलों के लिए मुझसे जो भी संभव होगा मै आपकी सहायता करने की कोशिश करूंगा। मैं संस्थान के कुलपति प्रो. दिलीप कुमार डुरेहा को मुझे आमंत्रित करने के धन्यवाद कहना चाहुंगा और मैं अत्यंत प्रसन्न हुं कि मुझे आज यहां आने का व आप सभी से मिलने का अवसर मिला। मुख्य अतिथि के संबोधन उपरांत विजेताओं को पुरस्कार वितरण किया गया व मैच ऑफिसियल्स को मोमेंटो दिए गए। इसके बाद प्रभारी कुलपति प्रो. मुखर्जी के औपचारिक घोषणा के बाद प्रतियोगिता का समापन किया गया।

                समापन समारोह से पहले आज तीसरे व चौथे स्थान के लिए डीएविवि, इंदौर व बरकतुल्लाह विश्वविद्यालय तथा प्रतियोगिता का फाइनल मैच सावित्रीबाई फूले विश्वविद्यालय, पुणे व मुम्बई विश्वविद्यालय के मध्य खेला गया। पहले मैच में   डीएविवि, इंदौर, की तरफ से राघव ने आकाश को 4-6, 7-6,6-3 यश ने उदित को 7-5, 6-1, आकाश और उदित ने यश और राधव को 6-2, 6-4 तथा राघव ने उदित को 7-6, 6-4 से पराजित कर प्रतियोगिता में तृतीय स्थान प्राप्त किया। फाइनल मैच  जो कि सावित्रीबाई फूले विश्वविद्यालय, पुणे व मुम्बई विश्वविद्यालय के मध्य खेला गया। इस मैच में सावित्रीबाई फूले विश्वविद्यालय, पुणे की तरफ से साहिल ने मैत्रेय को 6-0, 6-1 से, धु्रव ने हादिन को 4-6, 6-16-4 से तथा ध्रुव व साहिल ने हादिन कुणाल को 4-6, 7-510-7 से पराजित कर मुम्बई विश्वविद्यालय के खिलाफ 3-0 से जीत हासिल कर प्रतियोगिता अपने नाम की।

इस तरह सावित्रीबाई फूले विश्वविद्यालय, मुम्बई विश्वविद्यालय, डीएविवि, इंदौर व बरकतुल्लाह विश्वविद्यालय पश्चिम क्षेत्रीय अर्न्तविश्वविद्यालयीन टेनिस प्रतियोगिता-2017 (पुरूष वर्ग) में क्रमशः प्रथम, द्वितीय, तृतीय व चतुर्थ स्थान पर रहें। समापन समरोह में संस्थान के सभी आचार्य, छात्र व कर्मचारी उपस्थित रहे। समापन समारोह का संचालन डॉ. नुसतरन बानो व धन्यवाद प्रस्ताव नेहा ने प्रेषित किया।

Arrow

Inauguration of West Zone Inter-University Tennis (Men) Tournament
15-19 December 2017

 

लक्ष्मीबाई राष्ट्रीय शारीरिक शिक्षा संस्थान में आज दिनांक 15.12.2017 को प्रातःकाल 10.00 बजे पश्चिम क्षेत्रीय अर्न्तविश्वविद्यालयीन टेनिस प्रतियोगिता 2017 (पुरूष वर्ग) का शुभारंभ संस्थान के कुलपति प्रो. दिलीप कुमार डुरेहा के मुख्य आतिथ्य में हुआ। शुभारंभ समारोह में डॉ. एम.एस. राठौर (आयोजन सचिव) ने कुलपति प्रो. डुरेहा व कुलसचिव प्रो. विवेक पांडे का आगवानी कर स्वागत किया। इस दौरान टेनिस कोर्ट पर उपस्थित सभी टीमों ने पक्तिबद्भ होकर तालियों के साथ मुख्य अतिथि कुलपति प्रो. डुरैहा व विशिष्ट अतिथि कुलसचिव प्रो. पांडे का अभिनंदन किया। स्वागत समारोह में सर्वप्रथम संस्थान के कुलपति प्रो. दिलीप कूमार डुरेहा का स्वागत प्रो. विल्फ्रेड वॉज ने पुष्पगुच्छ देकर किया। इसके उपरांत कुलसचिव प्रो. पांडे का स्वागत श्री मंसूर अली ने किया। इसी क्रम में प्रो. जे.पी वर्मा (डीन, स्टूडेंट वेलफेयर) का स्वागत डॉ. ब्रिजकिशोर, प्रो. एस. मुखर्जी डीन ( डीन, एकेडमिक्स) का स्वागत नेहा व प्रो. विल्फ्रेड वॉज का स्वागत डा. अमर कुमार ने किया। अतिथियों के स्वागत उपरांत संस्थान के कुलपति प्रो. दिलीप कूमार डुरैहा ने पुनःनिर्मित टेनिस फ्लोर का उद्घाटन किया। उद्घाटन उपरांत विशिष्ट अतिथि कुलसचिव प्रो. पांडे का संबोधन हुआ। अपने संबोधन में कुलसचिव प्रो. पांडे ने सभी टीमों का संस्थान में स्वागत किया। कुलसचिव प्रो. पांडे ने सभी टीमों को अपनी शुभकामनाएं दी और कहा कि मै आशा करता हुं कि आप सभी इस पुनःनिर्मित टेनिस फ्लोर पर प्रतियोगिता में अपने मैचों का आनंद ले सकें। कुलसचिव प्रो. पांडे के उपरांत कुलपति प्रो. डुरैहा का संबोधन हुआ। अपने संबोधन में कुलपति प्रो. डुरेहा ने कुलसचिव प्रो. विवेक पांडे, प्रो. एस मुखर्जी, प्रो. जे.पी वर्मा, प्रो. विल्फ्रेड वॉज, आयोजन सचिव डा. एम.एस राठौर व उनकी पूरी टीम को पश्चिम क्षेत्रीय अर्न्तविश्वविद्यालयीन टेनिस प्रतियोगिता 2017 के लिए धन्यवाद व बधाई दिया। कुलपति प्रो. डुरेहा ने टेनिस को लेकर संस्थान की आगामी योजनाओं का जिक्र करते हुए कहा कि हम इस टेनिस कोर्ट को टेनिस कॉम्पलेक्स के रूप में परिवर्तित करने के साथ ही यहां एक टेनिस एकेडमी के गठन की भी योजना बना रहे हैं। हम श्री अनुराग (जी.सी.टी.ए) को इस मंच के माध्यम से धन्यवाद कहना चाहेंगे जिन्होने हमें प्रतियोगिता के मैचों को जी.सी.टी.ए में कराने में सहायता की। मै आप सभी को प्रतियोगिता के लिए बधाई देता हुं और आशा करता हुं कि आप सभी पूरी इमानदारी और खेल भावना से प्रतियोगिता में अपने खेल का प्रदर्शन करेंगे। आप सभी अपना क्षमता के साथ और एक-दूसरे को कड़ी टक्कर दीजिए। यह अत्यंत ही मूल्यवान क्षण हैं आप सभी के लिए क्योंकि आप सभी ने इस क्षण के लिए कड़ा परिश्रम किया हैं। एक बार फिर से मै आप सभी को प्रतियोगिता के लिए मेरी शुभकामनाएं देता हुं। संबोधन के अंत में कुलपति प्रो. डुरैहा ने प्रतियोगिता आंरभ का औपचारिक एलान किया। समारोह के अंत में एलएनआईपीई की टेनिस टीम के कप्तान आशीष मुखर्जी ने सभी को खेल को निष्पक्षता व खेल भावना से खेलने की शपथ दिलायी। स्वागत समारोह का संचालन डा. नुसतरन बानो व धन्यवाद प्रस्ताव प्रो. विल्फ्रेड वॉज ने किया। समारोह में संस्थान के सभी प्राध्यापक, अधिकारी, कर्मचारी व छात्र उपस्थित रहे।

Arrow

Workshop on Sports Biomechanics (12-14 Dec. 2017)

 

एलएनआईपीई मे जैव यांत्रिकी पर आयोजित तीन दिवसीय कार्यशाला का शुभारंभ
लक्ष्मीबाई राष्ट्रीय शारीरिक शिक्षा संस्थान में आज खेल जैव यांत्रिकी पर आयोजित तीन दिवसीय कार्यशाला (दिनांक 12.12.2017 से 14.12.2017) का शुभांरभ प्रो. जे.पी वर्मा (प्रभारी कुलपति, एलएनआईपीई) के मुख्य आतिथ्य में हुआ। समारोह में विशिष्ट अतिथि प्रो. विवेक पांडे (कुलसचिव, एलएनआईपीई) रहें। कार्यशाला के मुख्य वक्ता डॉ. इवान ग्रि.फथ (स्वानसी विश्वविद्यालय) हैं जिन्होनें खेल व व्यायाम विज्ञान मे खेल यांत्रिकी के प्रयोग पर विशेष कार्य किया हैं। डॉ. ग्रि.फथ की गोल्फ में खेल यांत्रिकी व कंप्यूटर विज्ञान का खेल में योगदान जैसे विषयों मे शोध रूचि हैं। इसके अतिरिक्त डॉ. ग्रि.फथ ने मनुष्यों के मौलिक पहलु व जानवरों के संचलन पर कई सैद्धान्तिक व व्यवहारिक अध्ययन किये हैं। डॉ. ग्रि.फथ स्पोर्ट्सविज़ लिमिटेड में टेक्निकल डायरेक्टर के पद पर भी कार्यरत हैं जो कि खेलों में विडियों विश्लेषण व प्रदर्शन विश्लेषण का सॉफ्टवेयर बनाती हैं। डॉ. ग्रि.फथ इस तीन दिवसीय कार्यशाला में छात्रों का व्याख्यान व प्रयोगिक विधि से मार्गदर्शन करेंगे। समारोह का शुभारंभ में प्रो. वर्मा (प्रभारी कुलपति), कुलसचिव प्रो. पांडे, प्रो. ए.एस साजवान (विभागाध्यक्ष, खेल जैव यांत्रिकी) व डॉ. ग्रि.फथ ने मां सरस्वती की प्रतिमा पर माल्यार्पण व दीप प्रजवलन कर किया। इसके उपरांत समारोह में उपस्थित सभी अतिथियों का स्वागत हुआ। सर्वप्रथम प्रो. वर्मा (प्रभारी कुलपति) ने डॉ. ग्रि.फथ व श्रीमती ग्रि.फथ का भारतीय परंपरानुसार स्वागत किया। इसके उपरांत प्रो. वर्मा (प्रभारी कुलपति), कुलसचिव प्रो. विवेक पांडे व प्रो. ए.एस साजवान का स्वागत डॉ. अमर कुमार ने किया।
अतिथियों के स्वागत उपरांत डॉ. साजवान का संबोधन हुआ। अपने संबोधन में डॉ. साजवान ने डॉ. ग्रि.फथ का कार्यशाला के आमंत्रण स्वीकार करने के लिए धन्यवाद किया और संस्थान में स्वागत किया। डॉ. साजवान ने अपने संबोधन के माध्यम से कार्यशाला के उददेश्यों पर प्रकाश डाला और कहा कि खेल जैवयांत्रिकी का प्रमुख कार्य खेल प्रदर्शन को व्यवहारिक प्रयोग के माध्यम से निखारने के साथ ही व्यक्ति के स्वयं के विकास का अध्ययन करना हैं। इस कार्यशाला के माध्यम से आप सभी को खेल जैवयांत्रिकी में प्रयोग हो रहे नवीनतम उपकरणों, मशीनों व तकनीक के बारे में जानने का अवसर मिलेगा और मै आशा करता हुं कि आप सभी छात्र इस अवसर का अधिकतम लाभ ले सकें। डॉ. साजवान के उपरांत डॉ. ग्रि.फथ ने सभा को संबोधित किया।
अपने संबोधन में डॉ. ग्रि.फथ ने सर्वप्रथम प्रो. वर्मा (प्रभारी कुलपति), डॉ. साजवान व एलएनआईपीई प्रशासन को धन्यवाद दिया और कहा कि यह मेरे लिए सम्मान की बात हैं कि आपने मुझे यहा आमंत्रित किया। मैं यहां आप सभी के मध्य आकर अत्यंत ही खुश हुं। मैं पहली बार भारत आया हुं और मेरे लिए इस कार्यशाला की मुख्य चुनौती यही रहेगी कि मैं इस कार्यशाला को कहां से आरंभ करूं। मै आशा करता हुं कि मै आपके सभी सवालों पर आपको संतुष्ट कर सकुं पर यदि समय के अभाव में ऐसा न हो पाया तो मै कोशिश करूंगा कि मेल के माध्यम से आपकी परेशानी का निदान कर सकुं। डॉ. ग्रि.फथ के उपरांत प्रो. वर्मा (प्रभारी कुलपति) का संबोधन हुआ। प्रो. वर्मा ने अपने संबोधन में कहा कि यह हमारे लिए सम्मान का विषय हैं कि आपने हमारे आमंत्रण को स्वीकार किया और आज हमारे मध्य हैं। मैं अपने तरफ से व संस्थान की तरफ से आपका संस्थान में स्वागत करता हुं व आपको धन्यवाद करता हुं। आप सभी छात्रों के लिए यह एक अच्छा अवसर हैं कि इस कार्यशाला के माध्यम से आप खेल जैव यांत्रिकी को और बेहतर समझ सकें। यह अवश्य ध्यान में रखें कि सीमित ज्ञान शोध के लिए पर्याप्त नहीं हैं अंत अपने ज्ञान को बढ़ाने का प्रयास करें। डॉ. ग्रि.फथ की प्रशंसा करते हुए डॉ. वर्मा ने (उनके कथन को दोहराते हुए कहा कि यदि समय के अभाव में ऐसा न हो पाया तो मै कोशिश करूंगा कि मेल के माध्यम से आपकी परेशानी का निदान कर सकुं। ) कहा कि यह एक अच्छे शिक्षक की विशेषता हैं। एक बार फिर से मै आपका स्वागत व धन्यवाद करता हुं। कार्यक्रम का संचालन डॉ. विनिता बाजपेयी मिश्रा (आयोजन सचिव) ने व धन्यवाद प्रस्ताव डॉ. अमर कुमार (संयुक्त आयोजन सचिव) ने प्रेषित किया।
 

Arrow

Debate and Quiz competition organised by LNIPE Gwalior in Vigilance Awareness Week. 

 

“सर्तकता जागरूकता सप्ताह” के अवसर पर क्विज व वाद-विवाद प्रतियोगिता का आयोजन
लक्ष्मीबाई राष्ट्रीय शारीरिक शिक्षा संस्थान में आज “सर्तकता जागरूकता सप्ताह” के अवसर पर क्विज व वाद-विवाद प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इन प्रतियोगिताओं में छात्रों, आचार्यों व प्रशासनिक कर्मचारियों ने अपने-अपने वर्गा में अपनी प्रतिभागिता दर्ज करायी। प्रतियोगिता के समापन उपरांत संस्थान के कुलपति प्रो. दिलीप कुमार डुरेहा ने प्रतिभागियों को संबोधित करते हुए कहा कि यह एक जटिल समस्या हैं आज यह समस्या हमारे समाज में सभी के आम दिनचर्या में शामिल हो चुका हैं। अंतः इसे रोकने या खत्म करने के लिए हमें सबसे पहले स्वयं के व्यवहार व समाजिक आचरण को सुधारने की आवश्यक्ता हैं। संस्थान में इस “सर्तकता जागरूकता सप्ताह” के दौरान आज जो प्रतियोगिताएं आयोजित हुई उसमे दोनों ही श्रेणायां में प्रथम तीन प्रतिभागी विजेता घोषित किए गए।
छात्र-छात्राओं की प्रतियोगिता में विजेताओं के नाम क्रमशः निम्नलिखित रहें-
1. मनीष शुक्ला, ताहिर रमज़ान व विजेंद्र यादव (शोध छात्र)
2. गगन व सूरज (बीपीएड तृत्तीय वर्ष)
3. अशोक, प्रिया व ब्रिजेश (बीपीएड चतुर्थ वर्ष)
आचार्यों व प्रशासनिक अधिकारियों में विजेताओं के नाम क्रमशः निम्नलिखित रहें-
1. श्री राजेश मित्तल ।
2. श्री मोहम्मद जुलफेकार अली।
3. श्री तरूण तोमर।
 

Arrow

एलएनआईपीई में निःशुल्क स्वास्थ शिविर का आयोजन

 

 

क्ष्मीबाई राष्ट्रीय शारीरिक शिक्षा संस्थान व सिप्ला फार्मा के संयुक्त तत्वाधान मंें आज संस्थान के स्वास्थ केंद्र में एक निःशुल्क स्वास्थ शिविर का आयोजन किया। इस शिविर का उद्देश्य संस्थान के कर्मचारियों का श्वास संबधी बीमारियों परीक्षण करना तथा उन्हें ऐसे रोगों के प्रति जागरूक करना था। शिविर का शुभांरभ प्रो जे.पी वर्मा (प्रभारी कुलपति, एलएनआईपीई) ने किया। शिविर में संस्थान के समस्त कर्मचारियों व उनके परिवार के सदस्यों का निःशुल्क स्पायरोमेट्री परीक्षण किया गया व परामर्श अनुसार दवाएं वितरित की गई। शिविर का संयोजन डाॅ. बिन्दल (प्रभारी, स्वास्थ केंद्र), डाॅ. जयराज वाधवानी (चिकित्सा अधिकारी, एलएनआईपीई) व डाॅ. प्रियंका जैन (सिप्ला फार्मा) के द्वारा किया गया।

 

Arrow

एलएनआईपीई में ”फ्रेशर्स नाईट” का हुआ आयोजन

 

 

लक्ष्मीबाई राष्ट्रीय शारीरिक शिक्षा संस्थान में आज नवांगतुक छात्रों के स्वागत हेतू “फ्रेशर्स नाईट” का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभांरभ प्रो. दिलीप कुमार डुरेहा (कुलपति, एलएनआईपीई) व प्रो. विवेक पांडे (कुलसचिव, एलएनआईपीई) ने मां सरस्वती की प्रतिमा पर पुष्प अर्पण व दीप प्रजवलन कर किया। कार्यक्रम में नवांगतुक छात्रों ने सांस्कृतिक कार्यक्रमों जैसे- नृत्य, गायन, अभिनय में प्रतिभागिता दर्ज कराई और सभी को अपने कला के विभिन्न आयामों से परिचित कराया। कार्यक्रम में सभी ने अच्छा प्रदर्शन किया परंतु आर्कषण का मुख्य केंद्र बिपिन, शुभम की जोड़ी द्वारा योगा व जिम्नास्टिक का प्रदर्शन, सिसिलिया थोमस द्वारा गाया गीत व लिलिपुट डांस रहा। कार्यक्रम के दौरान सांस्कृतिक क्लब में शामिल नए सदस्यों के साथ ही अन्य सदस्यों को सम्मानित भी किया गया। कार्यक्रम के अंत में कुलपति प्रो. डुरेहा ने सभा को संबोधित किया। अपने संबोधन में कुलपति प्रो. डुरेहा ने सर्वप्रथम संस्थान में आए सभी नवांगतुक छात्र- छात्राओं का स्वागत किया और कहा कि आप सभी ने संपुर्ण कार्यक्रम का अत्यंत ही व्यवस्थित व शानदार आयोजन किया। मै इस शानदार आयोजन के लिए प्रथम वर्ष के सभी छात्र-छात्राओं व सांस्कृतिक क्लब को बधाई देना चाहुंगा। कुलपति प्रो. डुरेहा के संबोधन के उपरांत संयुक्त भोजन के साथ कार्यक्रम का समापन हुआ।

 

Arrow

“सर्तकता जागरूकता सप्ताह” का समापन in LNIPE Gwalior

 

 

Arrow

गांधी जयंती के अवसर पर स्वछता ही सेवा , संकल्प से सिद्धि in LNIPE Gwalior

 

 

Arrow

Dussehra festival Celebration in LNIPE, Gwalior MP

 

 

Arrow

हिन्दी सप्ताह (Hindi Week ) कार्यक्रम का समापन in LNIPE Gwalior

 

 

 

Arrow

हिन्दी सप्ताह (Hindi Week ) Dated 14 Sep. 2017 in LNIPE Gwalior

 

 

 

Arrow

स्वच्छता पखवाड़ा कार्यक्रम का समापन in LNIPE Gwalior

 

 

 

Arrow

Intramural Competition Football match Dated 16-09-2017 in LNIPE Gwalior

 

 

 

Arrow

A Special lecture on yoga Dated 11-12 Sep. 2017 in LNIPE Gwalior

 

 

 

Arrow

D.D Upadhyay centenary celebrations were celebrated in LNIPE

 

 

Arrow

Demonstration of fire fighting and prevention in LNIPE Gwalior

 

 

 

Arrow

Teacher Day in Celebration LNIPE Gwalior

 

 

 

Arrow

Hon'ble VC Prof. Dureha, with faculty members, staff & student of LNIPE heard MannKiBaat of Hon'ble PM

 

 

 

Arrow

60th Foundation Day in LNIPE Gwalior new

 

 

Arrow

Intramural sports 2017 in LNIPE Gwalior new

 

Arrow

Candle March, in LNIPE Gwalior

 

   
Arrow

Independence Day 2017 Celebration, in LNIPE Gwalior

 

   
Arrow

Visit of Hon'ble Secretary of Sports Shri Injeti Srinivas in LNIPE Gwalior  

   
Arrow

Programme "Sankalp for New India" in LNIPE Gwalior  

   
Arrow

 Swachh Abhiyan programme in LNIPE Gwalior  

   
Arrow

Kargil Vijay Diwas in LNIPE Gwalior  

   
Arrow

राष्ट्रीय शिक्षा सम्मेलन 2017 द्वारा LNIPE को उत्कृष्ट संस्थान से सम्मानित किया गया है 

   
Arrow

Retirement Party Dated: 30 June 2017  

   
Arrow

Valedictory Function of Summer Coaching Camp Dated: 22 June 2017  

   
Arrow

International Yoga Day 21 June 2017

   
Arrow

Floral Tribute at samadhi sthal of virangana Rani Lakshmibai 18/06/17

   
Arrow

LNIPE news foundation and plantation 09 June 2017

   
Arrow

LNIPE student selection in national football team

   
Arrow

LNIPE Students selected for National Camp

   
Arrow

National Workshop on Comprehensive Development Framework of National University Sports, 08-09 May 2017

   
Arrow

Opening Summer Camp LNIPE  08-05-2017

   
Arrow

Intramural closing LNIPE  16-04-2017

   
Arrow

Lecture Adapted Physical Education15-04-2017

   
Arrow

8th Convocation LNIPE  13-04-2017

   
Arrow

Initiation ceremony and farewell 09-04-2017

   
Arrow

Word Table Tennis Day 6 April 2017

   
Arrow

News of FTO closing 03-04-2017

   
Arrow

Closing of APS Refresher Course

   
Arrow

Closing of Aerobics Workshop 29-03-2017

   
Arrow

LNIPE 1st Tennis Championship Date : 25th & 26th March 2017

   
Arrow

LNIPE student won gold in International Triathlon competition Delhi

   
Arrow

Seven day Aerobic Workshop, 22 to 29 March 2017

   
Arrow

Closing Inter Zonal Women Hockey Tournament 2016-17 ( 22 March 2017)

   
Arrow

Refresher Course for PE Teachers of Army Public Schools ( 16-30 March 2017)

   
Arrow

Mauritius day Celebration 15/03/2017

   
Arrow

Inter Zonal Women Hockey Tournament 2016-17

   
Arrow

Inauguration ceremony of Inter Zonal Women Hockey Tournament 2016-17

   
Arrow

FIFA Wordcup 2017 under 17 competition core committee

   
Arrow

KVS In-Service Course - Closing Ceremony

   
Arrow

Intramural Feb 2017

   
Arrow

Two different Workshops conduct by Prof. J.P. Verma

   
Arrow

In-Service Course ( J&K) - Opening Ceremony : Dated 07-02-2017

   
Arrow

Closing of International Congress on Sports Science and Yoga, 4th of Feb. 2017

   
Arrow

International Congress on Sports Science and Yoga, 2nd, 3rd and 4th of Feb. 2017

   
Arrow

Three Days Pre-Congress Workshop ( 29th, 30th and 31st January 2017)

   
Arrow

Blood Donate Camp Dated 28-01-2017

   
Arrow

School March Past and Mass Demonstration : Dated 27/01/2017

   
Arrow

Hockey juggling skill word record Dated 26/01/2017

   
Arrow

68th Republic Day of India – 26 January 2017

   
Arrow

In-Service Course ( J&K) - Opening Ceremony : Dated 25-01-2017

   
Arrow

Guru naman by 1985 batch on 13.01.2017

   
Arrow

Meeting of Academic Academic council 12.01.2017

   
Arrow

KVS in Course Dated 02.01.2017 to 22.01.2017

   
Arrow

West Zone Inter-university Hockey Championship (Men) closing ceremony

   
Arrow

West Zone Inter-university Hockey Championship (Men) opening ceremony

   
Arrow

Basketball, women hockey and handball news 22-12-2016

   
Arrow

Football team won akhil bhartiya rajmata vijyaraje scindhia football swarn cup

   
Arrow

West Zone Inter-university Hockey Championship (Women)

   
Arrow

MP State Senior Basketball Championship 2016

   
Arrow

FIFA Women's Youth Course at LNIPE Gwalior

   
Arrow

Lecture series Dated 05.12.2016

   
Arrow

Training Program for AIFF Referee course 14-17 Nov. 2016

   
Arrow

Nine students from @LNIPE_Gwalior selected in MadhyaPradesh Yoga team. They are now going to participate in 41st NYC at Ranchi.

   
Arrow

Honorable VC Prof. D K Dureha released @LNIPE_Gwalior first ever yearly magazine ABHIVYAKTI...magazine compiles write up & news of LNIPE.

   
Arrow

Intramural volleyball match Arbindo beat Subhash in final

   
Arrow

Mayors Cup Table tennis competition. Jointly hosted by GDTTA & @LNIPE

   
Arrow

2nd Board meeting of Dept. of Yoga Sciences at LNIPE 2016

   
Arrow

FIFA/MA Women Course conducted from 08th – 12 Nov 2016

   
Arrow

Indo-Kazakhstan Hockey series, 10th -15th October 2016

   
Arrow

Swachh Bharat Mission - 02 October 2016

   
Arrow

National Workshop on Coaching, Training and Officiating in Sports

   
Arrow

Teacher's Day Celebration - 05.09.2016

   
Arrow

National Sports Day 29 August 2016

   
Arrow

FIFA Women goalkeeping refresher course

   
Arrow

Run for Freedom - 23.08.2016

   
Arrow

Foundation Day Celebration 16-17, August 2016

   
Arrow

Independence Day Celebration 2016

   
Arrow

कुलपति प्रो. दिलीप कुमार डुरैहा जी का नाम इस वर्ष के हेरिटेज इंडिया द्धारा आयोजित वरिष्ठ नागरिक शिरोमणि सम्मान के लिए चयन किया गया

   
Arrow

International Workshop on AQUA Fitness, 6-8 August 2016

   
Arrow

Olympic Live TV Sponsors by LNIPE

   
Arrow

Olympic Inspiration Run , 31 July 2016

   
Arrow

Retirement Farewell of Shri D.K. Patil

   
Arrow

BPEd Preliminary Admission Test 2016

   
Arrow

Closing of Summer Coaching Camp 2016

   
Arrow

New Ambulance in the Institute

   
Arrow

International Yoga Day 21 June 2016

   
Arrow

Winners of Competition on Yoga Day 21 June 2016

   
Arrow

Summer Coaching Camp 2016

   
Arrow

National Seminar for the Development of University Sport in India
7-8 March 2016, Vigyan Bhawan, New Delhi

   
Arrow

Republic day 26 January 2016

   
Arrow

Medical Check-up Camp 13-14 January 2016

   
Arrow

Road Safety Events 12 & 15 December 2015

   
Arrow

Events in LNIPE campus 2015-16

   
Arrow

International Conference on Fitness, Wellness & Sports Sciences 20-22 Nov.15

   
Arrow

West Zone, Badminton (M&W) Tournaments for the year 2015-16

   
Arrow

Inter Zonal Badminton (M&W) Tournaments for the year 2015-16

   
Arrow

Swachh Bharat Abhiyaan Dated 02-Oct-2015

   
Arrow

Sports Day Album

   

Arrow

Adventure  Album

   
Arrow

Culture Album

   
Arrow

Machine Album

   
Arrow

Placement Album

   
Arrow

Teaching Practice Album

   
Arrow

Miscellaneous Album